BLOG DESIGNED BYअरुन शर्मा 'अनन्त'

गुरुवार, 8 अगस्त 2013

जीवन रथ


खींच रहे है
घिसे पिटे पहिये
जीवन रथ

*****************

फ़ुस्स्स हो गये
मेड  इन  चाइना
पहिये नए

*****************
सुस्ताना चाहे
ढलती हुयी धूप
खजूर तले

****************
चुप लहरें
देखती अपलक
ज्व़ार का नृत्य